Header Ads Widget

मजदूरी के लिए ई-श्रम पोर्टल रजिस्ट्रेशन वाले मजदूरों को मिला तोफा { 1000 रु की राशि मिली मजदूरों को

 


 

Now the workers will get the direct benefit of these schemes, the amount will come in their account

मजदूरी के लिए ई-श्रम पोर्टल रजिस्ट्रेशन वाले मजदूरों को मिला तोफा  { 1000 रु की राशि मिली मजदूरों को

E-Shram Card

श्रम पोर्टल पर रजिस्टर्ड लोगों के बैंक खाते में आये 1000 रुपयेजानें कब आएगी अगली किस्त


-श्रम पोर्टल मजदूरी के लिए -श्रम पोर्टल पर यूपी और बिहार लोगों ने किया रिकॉर्ड रजिस्ट्रेशन

पर अब तक कुल 24 करोड़ 85 लाख 8 हजार 271 रजिस्ट्रेशन हुए हैं, जिसमें उत्तर प्रदेश में -श्रमिक कार्ड पाने वाले श्रमिकों की संख्या सबसे ज्यादा 8 करोड़ के पार हो गई है. इसके बाद बिहार है.

E-Shram Card: देश के असंगठित क्षेत्र के लगभग 25 करोड़ श्रमिकों ने ई-श्रम पोर्टल रजिस्ट्रेशन कराए हैं. सबसे हैरानी की बात ये है कि इसमें से 2 करोड़ से ज्यादा लोग ग्रेजुएट या इससे ज्यादा पढ़े-लिखे हैं. ई-श्रम पोर्टल पर अब तक कुल 24 करोड़ 85 लाख 8 हजार 271 रजिस्ट्रेशन हुए हैं, जिसमें उत्तर प्रदेश में ई-श्रमिक कार्ड पाने वाले श्रमिकों की संख्या सबसे ज्यादा 8 करोड़ के पार हो गई है. इसके बाद बिहार के 2.66 करोड़ श्रमिकों ने रजिस्ट्रेशन कराए हैं पहली क़िस्त के एक हजार रु आये बैंक खाते में अगली क़िस्त मार्च तक आने की ही सम्भावना चुनाव के चलते नहीं आ सकती इस महीने की किस्त

बुधवार को राज्यसभा में सांसद राम नाथ ठाकुर ने सवाल पूछा था कि ई-श्रम पोर्टल पर अब तक कितने रजिस्ट्रेशन हुए हैं? जिसके जवाब में श्रम राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने ये जानकारी दी. गौरतलब है कि ई-श्रम पोर्टल माध्यम से यूपी में मजदूर परिवारों को एक हजार रुपया महीना भत्ता और दो लाख रुपये का दुर्घटना बीमा मिल रहा है. ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना वाले 24 करोड़ 85 लाख 8 हजार 271 में से 95 प्रतिशत लोगों की आय हर महीने 10 हजार से कम है. वहीं 1.1 करोड़ कामगारों की आय 10 से 15 हजार के बीच है.

 


अब इन योजनाओं का सीधा लाभ मिलेगा मजदूरों को उनके खाते में आएगी राशि

 

आपको बता दें कि श्रम एवं रोजगार मंत्रालय ने ई-श्रम कार्ड को गरीब-मजदूर परिवारों को केंद्र सरकार की सभी योजनाओं का सीधा लाभ पहुंचाने के लिए शुरू किया है. इसके तहत निर्माण श्रमिक, प्रवासी श्रमिक, प्लेटफार्म श्रमिक, स्ट्रीट वेंडर, घरेलू श्रमिक और कृषि श्रमिक सहित सभी असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का डेटाबेस तैयार करके, उनके कौशल के हिसाब से रोजगार प्रदान करना मुख्य उद्देश्य है.

Reports claimed that Ne-labor cards for Ne-Labor cards to be written off-labour to campaign for the start of the campaign. Workers, workers, workers, workers, workers, home workers and workers work in the field according to the area they work in.

-श्रम पोर्टल  पर रजिस्टर कराने वाले असंगठित क्षेत्रों के मजदूरों को रजिस्ट्रेशन का लाभ मिलने लगा है. अगर आप दिहारी मजदूर हैं, कृषि श्रमिक, कंस्ट्रक्शन वर्कर  सब्जीवाले, घरेलू नौकर या कोई भी अन्य मजदूर या कामगार हैं, तो ये आपके लिए खुशखबरी है.

The workers of the unorganized sectors, who have registered on the e-shram portal, have started getting the benefit of registration. If you are a daily wage laborer, agricultural laborer, construction worker, vegetable seller, domestic servant or any other laborer or worker, then this is good news for you.

आपका कोई भी ESIC या EPFO में अकाउंट नहीं है और अगर आपने -श्रम पोर्टल पर रजिस्टर किया है तो आप अपना अकाउंट चेक कर लीजिये क्योंकि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार नवंबर-दिसंबर के लिए आपके खाते में 1,000 रुपये ट्रांसफर कर चुकी है

You do not have an account with any ESIC or EPFO and if you have registered on the e-shram portal, then check your account because the Yogi Adityanath government of Uttar Pradesh has transferred Rs 1,000 to your account for November-December.

 

यानि -श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को नवंबर दिसंबर के किस्त का पैसा खाते में चुका है

E-Shram पोर्टल पर 25 करोड़ लोग रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं. यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने दो करोड़ श्रमिकों को भरण पोषण भत्ता भेजा है. इस योजना के पहले चरण के तहत 1,000 रुपये श्रमिकों के खाते में ट्रांसफर किये जा चुके हैं.

योजना के मुतबाकि दिसंबर से मार्च तक यानी 4 महीने तक भत्ता दिया जाएगा. कुल 2000 रुपये दिये जाने है जिसकी 1,000 रुपये की किश्त दी जा चुकी है. इस समय राज्य में रजिस्टर्ड असंगठित क्षेत्र के मजदूरों की संख्या 5.90 करोड़ लोगों से अधिक है और श्रम पोर्टल पर रजिस्टर्ड असंगठित मजदूरों की संख्या 3.81 करोड़ है.

अब ये जानना चाहते हैं कि अगली किस्त कब आएगी.

आपको बता दें यूपी में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं जिसके चलते आचार संहिता लगा हुआ है. इसकी के चलते 1000 रुपये कि किस्त अभी नही सकती. अब अगली किस्त 1000 रुपये की 10 मार्च 2022 के बाद आने की उम्मीद है.

 




अगर आपके पास भी e-Shram कार्ड है और आप यूपी में रह रहे हैं तो आपको भी 500 रुपये मिल सकते हैं. अगर आपने अभी तक रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है तो तुरंत करा लीजिए क्योंकि रजिस्ट्रेशन के बाद आपको भी 500 रुपये मिलेंगे.

If you also have an e-Shram card and you are living in UP, then you can also get 500 rupees. If you have not registered yet, then do it immediately because after registration you will also get 500 rupees.

 

असंगठित क्षेत्र के मजदूर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए E-Shram के मोबाइल एप्लीकेशन या वेबसाइट पर जाकर रजिस्टर कर सकते हैं. इसके अलावा पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराने के लिए कॉमन सर्विस सेंटर 

Workers of the unorganized sector can register for online registration by visiting E-Shram's mobile application or website. Apart from this, Common Service Center to register yourself on the portal

स्टेट सेवा केंद्र श्रम सुविधा केंद्र चुनिंदा पोस्ट ऑफिस के डिजिटल सेवा केंद्रों  में भी जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं

State Seva Kendra Shram Suvidha Kendra can also register by visiting Digital Seva Kendras of selected post offices.


One thousand rupees of the first installment came in the bank account, there is only possibility of the next installment coming by March, due to the elections, this month's installment can not come.

Post a Comment

0 Comments